अपाहिज दलित उम्मीदवार पर हमला करने वाले कांग्रेसी प्रधान की गिरफ्तारी को...

अपाहिज दलित उम्मीदवार पर हमला करने वाले कांग्रेसी प्रधान की गिरफ्तारी को ले कर ‘आप’ ने किया जोरदार रोष प्रदर्शन

अपाहिज दलित उम्मीदवार पर हमला करने वाले कांग्रेसी प्रधान की गिरफ्तारी को ले कर ‘आप’ ने किया जोरदार रोष प्रदर्शन
अपने हर वालंटियर के साथ छाती ठोक कर खड़ी है ‘आप’ लीडरशिप -हरपाल सिंह चीमा
चीमा के नेतृत्व में मुख्य मंत्री का घर घेरने गए ‘आप’ विधायक -वलंटियरों पर पुलिस ने चलाईं जल तोपें
पुलिस कार्यवाही में दर्जन के करीब हुए जख्मी, दो नेताओं की टांगें टूटी
रजिन्दर राजा को अभी भी गिरफ्तार न किया तो ओर बड़ा संघर्ष शुरु करेंगे -अमन अरोड़ा
पुलिस की सियासी दुरप्रयोग का नाजायज फायदा उठा रहे हैं कुछ पुलिस अफसर-सरबजीत कौर माणूंके

चंडीगढ़, आम आदमी पार्टी (आप) पंजाब आज जब अपने दलित और शारीरिक पक्ष से अपाहिज वालंटियर और ब्लाक समिति जोन झाड़ों से उम्मीदवार जगसीर सिंह पर हमला करने वाले और जाति सूचक शब्द बोलने वाले संगरूर जिला कांग्रेस के प्रधान रजिंदर सिंह राजा की गिरफ्तारी की मांग को लेकर एम.एल.ए. होस्टल से मुख्य मंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह के घर का घेराव करने की ओर बढ़ी तो पहले ही तैनात भारी संख्या में पुलिस फोर्स ने पानी की तोपें चला दीं। इसी कशमकश में’आप’के कई नेताओं और वलंटियरों को चोट लगीं। इस उपरांत पुलिस ने रोष मार्च का नेतृत्व कर रहे विरोधी पक्ष के नेता हरपाल सिंह चीमा, उप नेता सरबजीत कौर माणूंके, विधायक अमन अरोड़ा, कुलतार सिंह संधवां, प्रो. बलजिन्दर कौर, मीत हेयर, अमरजीत सिंह सन्दोआ, मनजीत सिंह बिलासपुर, कुलवंत सिंह पंडोरी, जोन प्रधान दलबीर सिंह ढिल्लों, महिला विंग की प्रधान मैडम राज लाली गिल, उप प्रधान जीवनजोत कौर, यूथ विंग प्रधान मनजिन्दर सिंह सिद्धू, खजांची सुखविन्दर सूखी, वित्त समिति के चेयरमैन नरिन्दर सिंह शेरगिल्ल समेत नेताओं और भारी संख्या में वलंटियरों को पुलिस हिरासत में ले कर सैक्टर 3 के पुलिस स्टेशन में बंद कर दिया गया। इस उपरांत मुख्य मंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह के ओ.ऐस.डी सन्दीप बराड़ थाने में ही मांग पत्र लेने पहुंचे, जिस उपरांत पुलिस ने सभी नेता रिहा कर दिए।
मांग पत्र लेने पहुंचे मुख्य मंत्री के नुमाइंदे को हरपाल सिंह चीमा और अमन अरोड़ा ने रजिन्दर सिंह राजा की की ओर से पंचायत समिति मतदान दौरान की गुंडागर्दी और जगसीर सिंह पर हमले की वीडियो सबूत के तौर पर दी।

‘आप’ नेताओं ने सरकारी नुमाइंदे के द्वारा मुख्य मंत्री को चेतावनी दी कि यदि उन्होंने लोकतंत्र और कानून की उलंघना करते हुए एक गरीब दलित और अपाहिज पर हमला करन वाले रजिन्दर सिंह राजा को गिरफ़्तार करने में आनाकानी की तो पार्टी ओर बड़ा संघर्ष शुरु करेगी,

परंतु अपने वलंटियरों और नेताओं के साथ धक्केशाही और बेइन्साफी बर्दाश्त नहीं करेगी। अमन अरोड़ा ने कहा कि बीती 19 सितम्बर को राजा के विरुद्ध केस दजऱ् हुआ था परंतु अभी तक गिरफ्तारी नहीं की।
हरपाल  सिंह चीमा ने कहा कि पुलिस और सरकारी तंत्र का दुरुपयोग करने में कांग्रेस सरकार बादल सरकार से भी दो कदम आगे निकल गई है। पुलिस की राजनैतिक दुरुपयोग का घातक नतीजा यह निकल रहा है कि पुलिस अफसर औरतों का शौषण करने और गाड़ीयों पर बांध कर गांव में घुमाने की हिम्मत करने लगे हैं। सूबे की कानून व्यवस्था बद से बदतर हो गई है और पंजाब में ऐसी गुंडागर्दियां होने लगीं हैं जो कभी बिहार जैसे राज्यों में सुनते था। उन्होंने कहा कि जगसीर सिंह पर हमला और बूथ पर कब्जा करने की घटना समिति मतदान में लोकतंत्र की सूबा भर में शरेआम हुई हत्या का ट्रेलर है। मांग पत्र में राजा विरुद्ध जाति सूचक शब्द इस्तेमाल किए जाने वाली एस.सी /एसटी एक्ट की धारा जोडऩे और राजा के साथ शामिल पुलिस कर्मचारी को बरखास्त करने की भी मांग रखी गई है।
पुलिस हिरासत से निकलने के उपरांत हरपाल सिंह चीमा, अमन अरोड़ा, प्रो. बलजिन्दर कौर, सरबजीत सिंह माणूंके और अन्य नेता सैक्टर 16 स्थित सरकारी हस्पताल में जख्मी यूथ विंग के उप प्रधान अमरदीप सिंह राजन और प्रिंसिपल एस.एस. बसरा दसूहा का विशेष तौर पर हाल पूछने गए। राजन की दोनों टांगें और प्रिंसिपल बसरा की एक टांग टूट गई। जबकि व्यापार विंग की प्रधान नीना मित्तल, यूथ विंग के प्रधान मनजिन्दर सिंह सिद्धू, विद्यार्थी नेता परमिन्दर सिंह गौल्डी और पटियाला जिला प्रधान चेतन सिंह जोड़ेमाजरा और मालवा जोन-3 के संयुक्त सचिव हरजीत सिंह लुधियाना के भी चोटें लगीं, जबकि पानी की तेज बौछार के कारण उप नेता विरोधी पक्ष बीबी सरबजीत कौर माणूंके भी गिर गए थे।

Print Friendly, PDF & Email

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY