तांगलांग ला. बारालाचा व रोहतांग सहित पहाड़ की ऊंची चोटियाँ ओढ़ रही...

तांगलांग ला. बारालाचा व रोहतांग सहित पहाड़ की ऊंची चोटियाँ ओढ़ रही हैं बर्फ की चादर

बर्फबारी से मनाली-लेह मार्ग पर थमने लगे वाहनों के पहिए

रमेश कँवर मनाली
बरसते मौसम के साथ पश्चिमी हिमालय के ऊंचाई बाले इलाके ठण्ड की आगोश में हैं . सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण मनाली-लेह मार्ग पर भी बर्फबारी के चलते वाहनों की आवाजाही वाधित हो गई है।

तांगलांग-ला, बारालाचा दर्रे में कल से बर्फबारी हो रही है . हिमाचल की कुछ ऊंची चोटियों  सहित रोहतांग दर्रे में भी हिमपात हुआ. मनाली लेह मार्ग पर जिला मुख्यालय केलंग तक हालांकि वाहनों की आवाजाही चल रही है लेकिन केलंग से लेह के बीच वाहनों आवाजाही प्रभावित हो रही है ।

तांगलांग-ला, बारालाचा दर्रे में कल से बर्फबारी हो रही है हिमाचल की कुछ ऊंची चोटियों  सहित रोहतांग दर्रे में भी हिमपात हुआ.  मनाली लेह मार्ग पर जिला मुख्यालय केलंग तक हालांकि वाहनों की आवाजाही चल रही है लेकिन केलंग से लेह के बीच वाहनों आवाजाही प्रभावित हो रही है ।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक लेह मार्ग पर सेना के वाहनों सहित दर्जनों ट्रक रसद लेकर लेह रवाना हुए है। ऐसे में बर्फ के फाहों का दौर जारी रहता है तो दिक्कतें बढ सकती है। एचआरटीसी केलंग ने पहले ही 15 सितंबर से अपनी दिल्ली-लेह बस सेवा बंद कर दी है . प्राइवेट वाहनों का आना-जाना जारी था.

देर शाम प्राप्त जानकारी के अनुसार लाहुल को स्पीति से जोडने वाले कुजंम दर्रे में भी बर्फ के फाहे गिरना शुरू हो गए हैं जिससे इस मार्ग पर भी वाहनों की आवाजाही थमने की आशंका बढ गई है। शनिवार सुबह एचआरटीसी की बसों सहित दर्जनों छोटे वाहनों ने लाहुल घाटी का रूख किया।

रोहतांग दर्रे में हालांकि अभी हल्की बर्फबारी शुरू हुई है तथा वाहनों की आवाजाही भी सुचारू है लेकिन बर्फबारी अधिक होने की सूरत में वाहनों की आवाजाही थम सकती है। पहाडों में बर्फबारी और घाटी में बारिश का क्रम शुरू होने से सर्दियों ने दस्तक दे दी है। लाहुल घाटी के पारा लुढक गया है जिससे किसानों-बागवानों की दिक्कतें बढ गई है।हिमाचल प्रदेश के कई क्षेत्रों में जहाँ जम कर बारिश हो रही है भीं कुल्लू और मंडी सहित कुछ क्षेत्रो में रुक- रुक कर बारिश का दौर जारी है . पहाड़ी प्रदेश का पारा लुढक गया है और सर्दी नें दस्तक दे दी है .

रोहतांग दर्रे में हालांकि अभी हल्की बर्फबारी शुरू हुई है तथा वाहनों की आवाजाही भी सुचारू है लेकिन बर्फबारी अधिक होने की सूरत में वाहनों की आवाजाही थम सकती है। पहाडों में बर्फबारी और घाटी में बारिश का क्रम शुरू होने से सर्दियों ने दस्तक दे दी है। लाहुल घाटी के पारा लुढक गया है जिससे किसानों-बागवानों की दिक्कतें बढ गई है। हिमाचल प्रदेश के कई क्षेत्रों में जहाँ जम कर बारिश हो रही है भीं कुल्लू और मंडी सहित कुछ क्षेत्रो में रुक- रुक कर बारिश का दौर जारी है . पहाड़ी प्रदेश का पारा लुढक गया है और सर्दी नें दस्तक दे दी है .

लाहौल घाटी के किसान किशन और पलजोर ने बताया कि आलू का काम जोरों से चल रहा है जबकि सेब का कार्य निपटाना अभी बाकि है। मनाली के बागवान डोले राज ने कहा कि घाटी में सेब की सीजन अंतिम चरण में पहुंच गया है लेकिन बारिश का क्रम शुरू होने से बागवानों की दिक्कतें बढ गई है।

लो आ गयी सर्दी विडियो देखें 

सर्दी का मौसम आ गया

Posted by NIT News on Saturday, September 23, 2017

केलंग डीएसपी संजय शर्मा ने बताया कि मनाली लेह मार्ग पर पर्यटकों की आवाजाही को देखते हुए अभी सरचू से पुलिस चैक पोस्ट को नहीं हटाया गया है। उन्होंने कहा कि मौसम के तेबर खराब चल रहे हैं ऐसे में लेह मार्ग पर सफर करना चुनौती भरा हो सकता है। उन्होंने कहा कि जब तक सरचू व बारालाचा में अधिक बर्फबारी का क्रम शुरू नहीं हो जाता तब तक लाहुल-स्पीति पुलिस सरचू में अपनी सेवाएं देगी।

Print Friendly, PDF & Email

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY